Posts

आओ फिर से शुरू करते हैं.............

Image
आओ फिर से शुरू करते है......... सब कुछ खत्म हो, उससे पहले मिलते हैं, अधूरी इस कहानी को, चलो आज पूरा करते हैं, कुछ सवाल तो जरुर होगें मन में तेरे, आख़िरी मुलाकात में उन्हें भी पढ़ते हैं। आओ फिर से शुरू करते हैं।। इस बार कुछ नया करते हैं, तुम बदल जाओ, हम इंतजार करते हैं मोहब्बत में कुछ खास नहीं मैं, इस बार क्यों ना दोस्ती से शुरुआत करते है। आओ फिर से शुरू करते हैं।। इस बार दगा तुम देना धोखेबाजी इस बार थोड़ा हम करते हैं, खो देना इस बार तुम मुझे हम अब भी तुमसे ही प्यार करते हैं। आओ फिर से शुरू करते हैं।।

भारत का जवान.................||

Image
 मैं तो जवान हुॅं एक दिन मर जाऊंगा, देश के लिए जिंदगी कुर्बान कर जाऊंगा। मौत में मेरी कुछ दिन राजनीति होगी, मैं तो जवान हुं ना, फिर से शांत हो जाऊंगा।। कुछ दिन अखबारों में छाऊंगा, कुछ दिन सोशियल मिडिया में आऊंगा। बीत जायेंगे मौत को कुछ दिन मेरी, फिर से कहीं अंधकारो में खो जाऊंगा।। तिरंगे में लिपटा जब मैं घर आऊंगा, पर माॅं से कभी मिल नहीं पाऊंगा। जब भर्ती हुआ फौज में, खुश थी मेरी माॅं, क्या माॅं को फिर से खुश देख पाऊंगा।। देश के लिए मैं सौ बार मर जाऊंगा, जन्म हो दोबारा, तो भारत भूमि ही चाहुंगा। भारत माॅं की रक्षा के लिए, फिर से मैं वापस शरहद में आऊंगा, मैं भारत का जवान हुं, मरने से नही घबराऊगा।। https://www.yourquote.in/lucky-kunjwal-lcui/quotes

One Sided love story...........|

Image
मैसेज टाइप होने से पहले डिलिट हो जाता है, तुमसे बात क्या करु कुछ समझ नही आता है। मेरे मैसेज का रिप्लाइ दे देती हो अक्सर तुम, पर ना जाने ये दिल तुमसे और क्या क्या चाहता है। दिल की बात बता देते, पर डर लगता है, तीन बार unfriend हो चुका हु, अब नही हटना चाहता,बस ये मन यही चाहता है। बाते तुम्हारी लोग अक्सर मेरे से सुना करते है, कहते है, कौन है बला जिसका जिक्र ये करते है, तुमसे मिले मुझे एक लम्बा अरसा हो गया है, और जैसे कल ही की बात हो, वैसे ये लफ्ज बँया करते है।। "मुझे तुम्हारी खुद से भी ज्यादा परवाह है, खुद को भी कभी लगने नही दिया, कि प्यार मेरा बस एक तरफा है।"

तुम आओगी क्या इस बार...........।

Image
आखिरी मुलाकात में कुछ बोला नही तुमसे, जो कहना था वो भी कहाँ कहा मैने तुमसे, तुम्हारी बाते सब सुनी मैने अब तुम भी सुनोगी क्या, एक बार मिलना है तुमसे , तुम आओगी क्या ............? वो स्कूल टाइम था गलती सबसे होती है। नादानी तो बचपन में हुई, अब तो तुमसे महोब्बत होती है अब गलती को सुधारना है मैने खोमोशी को लफ्जो में बया करना है एक बार मिलना है तुमसे तुम आओगी क्या ...........? तुम्हे याद करना अच्छा लगता है तुम्हारी बात करना अच्छा लगता है तुमसे मिलने के साथ आज कल तुममे खोना अच्छा लगता है येही बात बतानी है तुमको एक बार मिलना है तुमसे तुम आओगी क्या ...........? वक्त आज कल कहाँ जाता है पता नही चलता लिखता हु बस तुमपे लेकिन कोई शब्द ही नही मिलता सोचता हु क्या लिखु तुमपे जो पढ़ लो तुम, कुछ लिखा है मैने सुनाना है तुमको, एक बार मिलना तुमसे तुम आओगी क्या  ............? हकीकत में तो बरसो से नही मिला ख्वाबो में तो मिला हु बार - बार सफर मेरा खत्म हो उससे पहले मिल लेना एक बार तस्वीर में कब तब दीदार करु तुम्हारा कभी सामने भी आ जाओ एक बार। मेरी तकलीफो को छोड़ो तुम क

वो सर्वोदय था.....।

Image
घर से ज्यादा समय तो मै वहाँ रहता था, दोस्त, टीचर और वो ग्राउण्ड हमेशा मेरे साथ रहता था। हमेशा तो नही रहा, पर ज्यादातर मै क्लास के बाहर रहता था। Principal sir का डण्डा अब भी याद है, जिससे भागने पर मार खाया करता था। वो सर्वोदय था.....। टीचर्स के अलग अलग नाम बनाना शौक नही एक रिवाज था। ठाकुर दा के समोसे, रमू चाचा की चाऊमिन, और ग्राउण्ड के वो इकलौते पेंड के नीचे, बैठना भी लाजमी था। गर्मीयो में अन्दर, सर्दीयो में बाहर बैठना भी लाजमी था। वो सर्वोदय था......। पाण्डे सर का गणित, सिजवाली सर की Chemistry, Physics के लिए रिंकु मैम का इन्तजार भी लाजमी था। हरीश सर की biology, सुरेश सर की संस्कृत, तो फिर चम्पा मैम की, Art पढना भी लाजमी था। वो सर्वोदय था.......। वर्मा सर ने पढाया Disaster, Shivraj सर ने पढाया English, तो नयाल सर की हिन्दी पढना लाजमी था। PTI sir का किक्रेट तो फिर से मेरा घर को भागना लाजमी था। हरीश सर जो principal थे, हमने उनक़ो फिर भी chemistry chemistry ही बुलाना था। वो सर्वोदय था......। जहाँ हुआ करती थी हर पल मौज, वो मेरा स्कूल सर्वोदय था.....

सर्वोदय इण्टर कालेज कि बात है.....................

Image
जब मै उससे मिला मेरी क्लास 11 कि बात थी। वो छोटे शहर छोटे स्कूल नही, ये मेरी जिंदगी की बात थी। New admission हुआ उसका फिर बस पूरे स्कूल में उसकी बात थी। ये मेरे स्कूल, सर्वोदय इण्टर कालेज कि बात है। मै बैठता था उससे 3 लाइन दूर फिर भी वो मेरे पास थी। हम क्लास में 40 बच्चे पर सबके लिए वो खास थी। ये मेरे स्कूल सर्वोदय इण्टर कालेज कि बात थी। मै क्लास का Average बच्चा उसमें Topper's वाली बात थी। मै नही पुरा स्कूल पागल था उसमें कुछ तो खास बात थी ये मेरे स्कूल, सर्वोदय इण्टर कालेज कि बात थी https://www.yourquote.in/lucky-kunjwal-lcui/quotes

अगर मुक्कमल हुआ इश्क तो मिल जायेगे.....।

Image
मेरा साथ अच्छा लगे तो रहना मर्जी तुम्हारी वरना लौट जाना कोई जोर जबरदस्ती नही इश्क है कोई बन्दीस नही हाँ, एक दफा वजह जरुर बताना दूर जाने की मेरा हाथ छोड़, किसी और की बांहे थामने की कहाँ हो, कैसे हो ये जरुर बताना, तुमसे मिलने आयेगे..... अगर मुक्कमल हुआ इश्क तो मिल जायेगे.....। याद रखना कोई है जो आज भी जिक्र करता है मोहब्बत मत कहना, कहना आज भी फिक्र करता है हाथ थाम कर चलना सपना था उसका देख वो आज भी अकेला चलता है मेरे होने से दिक्कत हो, तो बताना हम अभी चले जायेगे...... अगर मुक्कमल हुआ इश्क तो मिल जायेगे...... एक तरफा इश्क हमेशा रहेगा हाथो में हाथ तो नही तेरा एहसास तो रहेगा याद रखना उन बातो को जो कभी मैने कही थी यादो में ना सही, बातो में तो आयेगे....... अगर मुक्कमल हुआ इश्क तो मिल जायेगे...... यादो को जीने का सहारा नही बनाऊगा आपनी हालातो का जिम्मेदार तुम्हे कभी नही बताऊगा तेरे लौट आने के सपने को हकीकत में भूल जाऊगा कभी लौटने का मन करे, तो बताना हम लेने जरुर आयेगे..... अगर मुक्कमल हुआ इश्क तो मिल जायेगे....... तेरा होना ना होना अब एक बात है क्योकि मेरा